उत्तर प्रदेश प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर योजना, Prepaid Meter Top up


उत्तर प्रदेश प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर योजना details check online upenergy.in UPPCL Smart Prepaid Meter Top up Recharge, apply online. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर 2019 में बनाई गई थी| इस योजना को पूरा करने के लिए सरकार द्वारा आदेश शुरू हो गए हैं | दिनांक 5 नवंबर से राज्य सरकार के द्वारा उत्तर प्रदेश के सभी लोगों के घरों में उत्तर प्रदेश स्मार्ट बिजली मीटर लगवाए जाएंगे| यह योजना 2019 में शुरू की गई थी| यूपी प्री-पेड स्मार्ट बिजली मीटर की शुरुआत सरकारी अफसरों, जन प्रतिनिधियों और मंत्रियों के घरों से की जाएगी| यूपी की सरकार चाहती है कि लोगों को सस्ती बिजली प्रदान हो इसीलिए उन्होंने इस योजना का आरंभ किया है|

उत्तर प्रदेश प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर योजना

प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं यूपीपीसीएल के अध्यक्ष आलोक कुमार ने यूपीपीसीएल के प्रबंध निदेशक की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स का गठन किया है। टास्क फोर्स जिसमें यूपीपीसी के निदेशक, वाणिज्यिक और वित्त भी शामिल हैं, योजना को क्रियान्वित करने के तौर-तरीकों को सुनिश्चित करेंगे।

बिजली विभाग स्मार्ट योजना शुरू करने के पीछे के कुछ उद्देश्य:-

  • स्मार्ट बिजली मित्रों के समय में सरकारी अफसरों व जन प्रतिनिधियों और मंत्रियों के द्वारा बिजली का भुगतान समय पर किया जाएगा |
  • बिजली का उपयोग करने के पहले उसे जरूरत के हिसाब से रिचार्ज करना होगा|
  • बिजली का भुगतान सही समय पर करने से विभाग पर भार कम होगा तथा बचा हुआ पैसा सरकार लोगों की दूसरी सुविधाओं को पूरा करने में लगाएगी|
  • बिजली सस्ती होने से आने वाले समय में बिजली की दरों में कमी आएगी|
  • यह योजना लागू करने से चोरी होने वाली बिजली की समस्या का समाधान हो जाएगा|
  • इससे बिजली विभाग को यह भी पता लग जाएगा कि स्मार्ट मीटर से कोई छेड़छाड़ की गई है या नहीं|

Recommended

UPPCL Prepaid Meter Top Up

हमारे भारत में सबसे ज्यादा बिजली का उत्पादन होता है| हमारे देश भारत में बिजली दर ज्यादा है| यह इसलिए है क्योंकि लोग बिजली का भुगतान नहीं करते और बिजली चोरी होने की वजह से यह भी उन लोगों पर आ जाता है जो इमानदारी से अपने घरों  की बिजली का भुगतान करते हैं| यह अभियान कुछ चरणों में खत्म किया जाएगा|

पहले चरण में एक लाख स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाए जाएंगे| अभी तक पूरे प्रदेश में सात लाख मीटर लगाए जा चुके हैं और 2022 तक सभी घरों में स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे| जिससे कि चोरी की समस्या खत्म हो जाएगी|

UP Prepaid Meter Yojana 2022

यूपी स्मार्ट मीटर योजना का मुख्य उद्देश्य:-

  • सरकार का स्मार्ट मीटर लगाने का मुख्य उद्देश्य यह है बिजली की चोरी को रोका जाए|
  • बिजली चोरी पर नियंत्रण काबू करने के लिए यह योजना बनाई गई थी|

बिजली चोरी होने की वजह से बहुत से क्षेत्रों के लोगों को एक का भुगतान दुगना करना पड़ता है| उन्हें कई समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है| इस स्मार्ट मीटर से समस्याओं का समाधान होगा और बहुत से लोगों को राहत की सांस मिलेगी|

Department Uttar Pradesh Power Corporation Limited (UPPCL)
Product Smart Prepaid Meter
Apply online UPPCL Prepaid Meter Apply Online
Link upenergy.in
Recharge UPPCL Prepaid Meter Recharge online
Under State Government of Uttar Pradesh
Check online उत्तर प्रदेश प्रीपेड स्मार्ट बिजली मीटर योजना

उत्तर प्रदेश में यूपीपीसीएल द्वारा एक करोड़ प्रीपेड बिजली मीटर:-

यूपीपीसीएल का अर्थ है उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड| एक योजना के तहत पूरे यूपी में एक करोड़ स्मार्ट बिजली मीटर लगाए जाएंगे| उत्तर प्रदेश में चोरी की दरों को कम करने के लिए स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे|एक करोड़ स्मार्ट मीटर लगाने से मीटर रीडिंग लेने में आसानी हो जाएगी| स्मार्ट मीटर में एक ट्रैकिंग डिवाइस भी होता है| इसे कोई भी उपभोक्ता मैनुअल बिल्डिंग के बिना अपने मीटर की खपत को ट्रैक कर सकता है| स्मार्ट मीटर योजना के अधिकारियों को ऑनलाइन सब्सक्रिप्शन और रीडिंग के साथ         उपभोक्ता को ट्रैक करने में सक्षम बनाता है| उत्तर प्रदेश मैं स्मार्ट मीटर लगाने का लाभ बिजली बचाना है|

UP Smart Meter Recharge online

उत्तर प्रदेश स्मार्ट मीटर योजना की जरूरत क्यों पड़ी ?

  • स्मार्ट मीटर का मुख्य उद्देश्य बिजली के डिस्ट्रीब्यूशन एवं ट्रांसमिशन में होने वाले नुकसान को नुकसान को कम करना है|
  • बिजली का उपयोग ना होने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा |
  • प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने से वितरण कंपनियों की स्थिति में भी सुधार आएगा ।
  • इस योजना के तहत ऊर्जा संरक्षण को भी प्रोत्साहन मिलेगा ।
  • इस स्कीम के जरिए कागजी बिल की व्यवस्था खत्म होगी ।
UP Prepaid Meter Recharge online

उत्तर प्रदेश स्मार्ट मीटर लगाने के फायदे (UPPCL Prapaid Meter benefits)

  • यह योजना कब इनकम ग्रुप वाले लोगों के लिए बनाई गई है।
  • उपभोक्ताओं को पूरे माह का बिल एक बार में चुकाने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • जितनी जरूरत होगी उसके अनुसार बिल चुका सकेंगे ।
  • अगर उपभोक्ता बिजली का इस्तेमाल नहीं कर रहा है तो उसको कोई भी चैट नहीं देना पड़ेगा ।
  • स्मार्ट मीटर में पोस्टपेड और प्रीपेड दोनों सिस्टम होंगे।

UPPCL Prepaid Meter Yojana 2022

उत्तर प्रदेश स्मार्ट मीटर योजना योजना क्या है? What is UPPCL Smart Prepaid Meter Scheme?

उत्तर प्रदेश में बिजली व्यवस्था में सबसे बड़ी संख्या में बिजली गुल होती है| इसे कम करने के लिए स्मार्ट मीटर योजना को स्थापित करना जरूरी है| यूपी प्रीपेड स्मार्ट योजना के द्वारा बत्ती गुल से निपटारा करने के लिए यूपीपीसीएल एक बहुत लंबी रणनीति का पालन करेगा |

सरकार द्वारा बनाई गई है योजना लिए बहुत लाभदायक होगी और इससे लोगों को सही रूप से बिजली का सही भुगतान करना होगा और यदि किसी को कोई आपत्ति आती है तो वह अपने रिकॉर्ड को ट्रैक कर भी सकता है जिससे उसे अपने बिजली की खपत का पता चल जाएगा.

UPPCL पहले ही EESL के द्वारा एक करोड़ स्मार्ट मीटर का टेंडर दे चुकी है| प्रीपेड स्मार्ट मीटर योजना के तहत जीनस पावर इन्फ्राट्रक्चर को 50 लाख और 30 लाख एल टी डी 20 लाख एल डी इंजीनियरिंग की आपूर्ति करेगा |

केंद्र सरकार डिस्कॉम ग्रुप से होने वाली बिजली गुल कम करने की कोशिश करेगा जो कि 100% से सभी घरों में मीटरिंग के माध्यम से होगा | सरकार सभी छोटे काम के उपभोक्ताओं के प्रीपेड और बड़े लोगों के लिए स्मार्ट मीटर लगाएगी |

UPPCL Smart Meter Top Up

Recharge or Top-up can be done by visiting the official portal of Uttar Pradesh Power Corporation Limited.

Click on the recharge link (from the bill payment section) and a new page will open.

After that, you have to follow key steps enter the account number, captcha code.

Then click on the view button and complete the payment process.

यूपी प्रीपेड स्मार्ट मीटर योजना के चलते यूपीपीसीएल लाइन लॉस वाले 13 जिलों में मीटर लगाए जाएंगे जिसमें कानपुर, वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, बरेली और लखनऊ शामिल है | यूपीपीसीएल की रिचार्ज राशि ₹ 50 से शुरू होगी | यूपी प्रीपेड का लाभ प्राप्त करने के लिए लोगों को कुछ दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस पहचान पत्र इत्यादि शामिल है |

उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए यह योजना एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना होगी जिसके परिणाम स्वरुप वह अपने बिजली के बिल को कम कर सकेंगे |



Source link

Leave a Comment Cancel reply